राजधानी के तेलीबांधा क्षेत्र अंतर्गत प्राचीन मौली माता मंदिर का पुनर्निर्माण किया जाएगा। इसकी तैयारी में महापौर एजाज ढेबर और उनकी परिषद जुट गई है।महापौर एजाज ढेबर ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि मंदिर के पुनर्निर्माण का संकल्प लिया था। जन आस्थाओं का केंद्र रहे ऐतिहासिक तेलीबांधा मौली माता मंदिर का जन अपेक्षाओं के अनुरूप पुनर्निर्माण का कार्य किया जाएगा। मंदिर का निर्माण जनसहयोग से किया जाएगा। 18 फरवरी को महाशिवरात्रि के दिन तेलीबांधा के समीप भूमिपूजन किया जाएगा। इस अवसर पर भंडारा का भी आयोजन होगा।(Raipur 1000 years old temple)

 

 

Read more:वेदांता एल्यूमिनियम द्वारा ओडिशा में पहले अंतरराष्ट्रीय एल्यूमिनियम सम्मेलन का आयोजन

 

 

उन्होंने बताया कि पौराणिक मंदिर करीब 1,000 वर्ष पुराना है, जो वर्तमान में तेलीबांधा तालाब से कुछ दूरी पर पुजारी के घर में स्थापित है। यहां आने वाले भक्तों की मनोकामना माता पूरी करती हैं। हर वर्ष आषाढ़ माह के पहले मंगलवार को मेला का आयोजन भी होता था, लेकिन करीब 12 वर्ष पहले भाजपा सरकार ने मंदिर को तोड़ दिया था।(Raipur 1000 years old temple)

 

Read more:सीएम भूपेश बघेल ने ऑनलाइन दिए 8.23 करोड रुपए,प्रदेश में बनेगी ग्रामीण उद्योग निती

 

 

विधायक कुलदीप जुनेजा ने कहा कि आक्सीजोन के नाम पर खालसा स्कूल के सामने से जिन 70 दुकानदारों को हटाया गया था, उनका व्यवस्थापन कराया जाएगा। इस दौरान विधायक कुलदीप जुनेजा, एमआइसी सदस्य, पार्षद आकाश तिवारी व अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताज़ा खबरें