छत्तीसगढ़ के कांकेर में नेशनल हाईवे (NH-30) से लापता हुई कार कुएं में गिरी मिली है। इस कार में ओडिशा के नायब तहसीलदार, उनकी पत्नी, उनका साला और एक परिचित सवार थे। यह सभी लोग शनिवार रात एक शादी समारोह में शामिल होकर लौट रहे थे। इसके बाद से इनका पता नहीं था। फिलहाल पुलिस की मौजूदगी में कार को कुएं से बाहर निकालने का प्रयास किया जा रहा है। इसके बाद ही ज्यादा जानकारी सामने आ सकेगी।(Car missing from highway)

Car missing from highway
हाईवे से लापता कार कुएं में मिली,कार में सवार थे 4 लोग,निकालने का प्रयास

 

Read more:अब घर बैठे भेंजे पार्सल,रेलवे जारी करेगा टोल फ्री नंबर,यशवंतपुर एक्सप्रेस में शुरू हुई सुवीधा

 

पुलिस लापता हुई कार को हाईवे पर तलाश कर रही थी। वहीं पर जंगलवार कॉलेज के पास एक कुआं है। काफी पुराना होने के कारण इस्तेमाल में नहीं आता है और ऊपर से झाड़ियां उग आई हैं। पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगालते हुए जब कुएं के पास पहुंची तो संदेह हुआ। इसके बाद झाड़ियां हटाकर देखा गया तो अंदर कार गिरी हुई थी। पुलिस ने जेसीबी और क्रेन को बुलाया है। उसकी मदद से कुएं के आसपास के इलाके को साफ कराया जा रहा है।(Car missing from highway)

 

Read more:छत्तीसगढ़ : आरक्षण विधेयक पर राज्यपाल का बयान,पहलुओं की जांच के बाद होंगे हस्ताक्षर

 

 

6 दिसंबर को आए थे शादी में शामिल होने

जानकारी के मुताबिक, ओडिशा के उमरकोट निवासी नायब तहसीलदार सपन सरकार (65) अपनी पत्नी रीता सरकार (50) की बड़ी बहन रीना दत्ता के बेटे की शादी में शामिल होने के लिए 6 दिसंबर को कांकेर के गोविंदपुर आए थे। इसके बाद 10 दिसंबर को गोविंदपुर में हुए रिसेप्शन में भी शामिल हुए। शादी में सपन के साले कोंडगांव निवासी विश्वजीत अधिकारी (42) और एक परिचित हजारी लाल ढाली (67) भी आए थे।(Car missing from highway)

 

 

Read more:पाकिस्तान युद्ध के हीरो भैरव सिंह राठौर का रायपुर में आगमन

 

 

रात को शादी से निकले, फिर घर नहीं पहुंचे

पार्टी के बाद नायब तहसीलदार सहित चारों शनिवार रात करीब 10.30 बजे कार से कोंडगांव के लिए रवाना हुए। उनके जाने से पहले और बाद में भी कुछ वाहन कोंडागांव के लिए निकले थे। जब रात करीब 12 बजे तक भी वे घर नहीं पहुंचे तो परिजनों को चिंता हुई। उन्होंने रीना दत्ता के मोबाइल पर कॉल किया, लेकिन शादी में व्यस्त होने के कारण वे कॉल रिसीव नहीं कर पाईं। इस पर परिजनों को लगा कि वे कांकेर में ही रुक गए होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताज़ा खबरें