रायपुर:- मघ्य भारत की अग्रणी एवं सुप्रसिध्द मैट्स विश्वविद्यालय के स्कूल आॅफ इंफार्मेशन टेक्नालाजी के तत्वधान में राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया जा रहा है। यह आयोजन 9 फरवरी से प्रारम्भ होकर 11 फरवरी तक चलेगा। संगोष्ठी का विषय ’’फ्यूचरिस्टिक डेवलपमेंट आॅफ कम्प्यूटिंग टेक्नालाजी इन एजुकेशन आफ इंडिया: विजन 2030’’ है। संगोष्ठी के प्रथम दिवस 9 फरवरी को आई. आई. टी. भिलाई के डायरेक्टर प्रो. राजीव प्रकाश मुख्य अतिथि के रूप मे उपस्थित रहे। कार्यक्रम का आरम्भ माता सरस्वती की पूजा अर्चना के साथ अतिथयों का सम्मान पुस्तक और पौधा के साथ किया गया। प्रारम्भ में विभागाध्यक्ष डाॅ. ज्ञानेश श्रीवास्तव ने स्वागत भाषण के दौरान मैट्स विश्वविद्यालय के विगत 17 वर्षो की यात्रा का संक्षिप्त उल्लेखन किया साथ ही संगोष्ठी की रूपरेखा तथा उद्देश्य की चर्चा की। उन्होने शिक्षा के क्षेत्र में कम्प्यूटर तथा आई.सी.टी. की भूमिका पर भी प्रकाश डाला। कुलसचिव श्री गोकुलानंद पण्डा ने शोधार्थियों को शुभकामानाएं प्रेषित की तथा शोघ कार्य की गंभीरता को समझ कर इस अनुरूप प्रदर्शन करने की सलाह दी। कुलपति प्रो. डाॅ. के.पी.यादव ने सन् 2030 के दृष्टिकोण में शिक्षा के क्षेत्र में आई.सी.टी के वृहद उपयोग पर बल दिय तथा शोध के क्षेत्र में तकनीकि के उपयोग को प्रथमिकता देने अपील की।
मुख्य अतिथि प्रों. राजीव प्रकाश ने आर्टीफीशियल इंटेलीजेस, मशीन लर्निग इत्यादि तकनीकि विषयों की महत्ता पर प्रकाश डाला साथ ही शोधार्थियों को कार्य को मूर्त रूप देनें तथा एप्लाइड रिसर्च पर कार्य करने की अपील की।

प्रथम सत्र में की-नोट स्पीकर के रूप में प्रो. संजीव कर्माकर , बी.आर्ट.टी. दुर्ग उपस्थित रहे। प्रो. कर्माकर ने ज्योतिष शास्त्र का उपयोग कम्प्यूटर साईंस विषयों के साथ करके मौसम के पूर्वानुमान प्राकृतिक आपदा यथा भूकम्प इत्यादि के पुर्वानुमान पर व्याख्यान दिया तथा शोधार्थियों के प्रश्नों का समाधान दिया। द्वितीय सत्र में प्रो. संजय कुमार, डीन एंड हेड, कम्पयूटर साईंस पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय उपस्थित रहे। प्रो. संजय कुमार ने रिसर्च की विभिन्न तकनीक तथा रिसर्च पेपर लेखन प्रविधि पर व्यख्यान दिया।
द्वितीय दिवस शोधर्थियों के पेपर प्रेजेन्टेशन के उपरान्त विश्वविद्यालय की उप.कुलपति डाॅ. दीपिका ढांड ने समापन समारोह की अध्यक्षता की। डाॅ. ढांड ने शोधार्थियों, विधार्थियों तथा आई.टी. विभाग के सदस्यों को हार्दिक शुभकामनाएं प्रेषित की तथा प्रतिभागियों को प्रमाणपत्र देकर सम्मानित एवं प्रोत्साहित किया।


उक्त आयोजन हेतु कुलाधिपति श्री गजराज पगारिया, डायरेक्टर जनरल श्री प्रियेश पगारिया ने विभाग कों प्रोत्साहित करते हुए, आगे भी ऐसे आयोजनों के लिए शुभकामनाएं प्रेषित की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताज़ा खबरें