छत्तीसगढ़ में जमीन के अंदर सोने की खदान होने की बात सामने आई है। इसे लेकर सर्वे की शुरुआत कर दी गई है। दरअसल, जशपुर जिले के पत्थलगांव क्षेत्र में जमीन के अंदर सोने के भंडार की जानकारी सामने आई। कलेक्टर डॉक्टर रवि मित्तल ने बताया, ‘पत्थलगांव का मयूनाचा, जामझोर और सहसपुर के आसपास भूगर्भ में स्वर्ण कणों का भंडार की तलाश के लिए प्रारंभिक सर्वे का काम की शुरुआत कर दी गई है।(Chhattisgarh hidden gold mine)

 

Read more:मैट्स विश्वविद्यालय द्वारा स्वच्छता अभियान के तत्वाधान में ईन दो पंचायत गुल्लू गाँव और आरंग परिसर में “स्वच्छ भारत – स्वस्थ भारत” अभियान रखा गया

 

जशपुर जिले के पत्थलगांव और फरसाबहार विकास खंड में 78 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र को सेटेलाइट के माध्यम से सोने के खदान के रूप में चिन्हित किया गया है। इसमें पत्थलगांव के तीन गांव का 2 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में अलग-अलग स्वर्ण कणों के बड़े भंडार होने की जानकारी प्राप्त हुई है। स्वर्ण खदान के लिए चिन्हित इन गांवों में सर्वे की शुरूआत कर ली गई है।(Chhattisgarh hidden gold mine)

 

Read more:J&K : पुंछ-जम्मू हाईवे पर सेना की गाड़ी पर आतंकियों ने ग्रेनेड से किया हमला, आग लगने से 5 जवान शहीद

 

वहीं दूसरी ओर सर्वे का काम के लिए भारी मशीन स्थापित करने खेती और हरियाली नष्ट होने के भय से ग्रामीणों ने भूगर्भ सर्वे के काम के लिए विरोध का स्वर तेज कर दिया है। ग्रामीणों का विरोध देख अगला सर्वे टीम के सदस्यों ने जिला प्रशासन को सूचना देकर फिलहाल का काम रोक दिया है। इसके बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने ग्रामीणों के साथ बैठकों का दौर शुरू कर समझाने का काम शुरू कर दिया है।(Chhattisgarh hidden gold mine)

 

Read more:बालको ने किया सप्ताहिक स्वास्थ्य शिविर का आयोजन.

 

 

पत्थलगांव उप पुलिस अधीक्षक हरीश पाटिल का कहना है कि अभी सर्वे से भूगर्भ में स्वर्ण भंडार की मौजूदा स्थिति का पता करने का काम किया जाना है। इस काम के लिए ग्रामीणों ने अपनी असहमति व्यक्त की है।

By Ankit

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताज़ा खबरें